[12th Physics]स्थिर वैद्युत बल तथा गुरुत्वाकर्षण बल में अंतर

स्थिर विद्युत बल

गुरुत्वाकर्षण बल

1

यह आकर्षण या प्रतिकर्षण बल हो सकता है |

1

यह हमेशा आकर्षण बल हो सकता है |

2

यह आवेशो के मध्य के दुरी के व्युत्क्रमानुपाती होता है |

2

यह द्रव्यमानो के मध्य की दुरी के वर्ग के व्युत्क्रमानुपाती होता है |

3

यह दो आवेशो के मध्य अंतर्क्रिया बल है |

3

यह दो पिंडो के मध्य अंतर्क्रिया बल है |

4

यह एक केन्द्रीय बल है अर्थात यह दोनों आवेशो के केन्द्रों को मिलाने वाली रेखा के अनुदिस कार्य करता है |

4

यह भी एक केन्द्रीय बल है अर्थात यह दोनों द्रव्यमानो के केन्द्रों को मिलाने वाली रेखा के अनुदिश कार्य करता है |

5

यह एक संरक्षी बल है अर्थात इसके द्वारा किया गया कार्य वास्तविक पथ पर निर्भर नहीं करता है |

5

यह भी एक संरक्षी बल है |

6

यह निश्चित दुरी पर कार्यरत प्रकार का बल है |

6

यह दीर्घ परास बल है |

7

यह न्यूटन के तृतीय नियम के अनुरूप है |

7

यह भी न्यूटन के तृतीय नियम के अनुरूप है |

Related posts

Leave a Comment