सेल के विद्युत वाहक बल एवं टर्मिनल विभवान्तर में अन्तर

सेल के विद्युत वाहक बल एवं टर्मिनल विभवान्तर में अन्तर

एकांक आवेश को पूरे परिपथ में सेल सहित प्रवाहित करने में सेल द्वारा दी गयी ऊर्जा को सेल का ‘विद्युत वाहक बल’ कहते हैं, जबकि किसी परिपथ  के दो बिन्दुओं के बीच एकांक आवेश को प्रवाहित करने में किए गए कार्य को उन बिन्दुओं के बीच ‘टर्मिनल विभवान्तर’ कहते हैं।

12th physics notes in hindi , 12th notes in hindi, 12th hindi notes in pdf, 12th notes

Related posts

Leave a Comment