प्रकाश का प्रकीर्णन क्‍या है

प्रकाश का प्रकीर्णन माध्‍यम के कणों द्वारा प्रकाश उर्जा को अवशोि‍षित कर अन्‍य दिशाओं में पुन: विकरित करने की क्रिया को प्रकाश का प्रकीर्णन कहते हे ।



बेन्‍जीन जैसे कार्बनिक द्रव पर प्रकाश के तीव्र विकिरण पुंज को डालकर उससे प्रर्कीणित प्रकाश में आपतित प्रकाश की आवृति v की रेखा के अतिरिक्‍त उससे कम आवृति (v-v1)(v-v2)... तथा उससे अधिक आवृति (v+v1)(v+v2).. को भी रेखाए प्राप्‍त होती है, ज‍िन्‍हें स्‍टोक रेखाए तथा प्रतिस्‍टोक रेखाए कहते हैै। इस स्‍पेकट्र्र्रम  को रमन स्‍पेक्‍ट्रम तथा इस प्रभाव को रमन प्रभाव कहते है।

Related posts

Leave a Comment